Skip to main content

share market free tips option trading calls

                          शेयर मार्केट है क्या ?

शेयर मतलब हिस्सा । कोई भी बड़ा उधोग या व्यापर किसी एक व्यक्ति की पूंजी से नही चल सकता । इसलिए कम्पनी लोगो से पैसा इकट्ठा करके पूंजी जुटाती है ,बिजनेस में होने वाला फायदा लोगो में बटता है। 
     शेयर बाजार के जरिए एक आम आदमी की बड़ी -बड़ी कम्पनीयो के साथ हिस्सेदारी हो जाती है। इस हिस्सेदारी का फायदा दो तरीको से मिलता है -
(१) डिविडेंड (लाभांश) - कंपनी के प्रॉफिट में से इंवेस्टर को समय पर डिविडेंड मिलता है। 
(२)शेयर की ऊॅची प्राइज - यदि कंपनी का बिजनेस अच्छा है,तो लोगो में उसके शेयर की माँग बढती जाएगी और शेयर का प्राइज बढ़ता जाएगा । 
      भारतीय शेयर मार्केट परफार्मेंस के बजाय परसेप्शन पर ज्यादा निर्भर है,क्योकि ८० % इन्वेस्टर्स बगैर पूरी जानकारी के काम करते है तो  जहाँ कंपनी का परफॉमेंस दुगुना है तो शेयर प्राइज दस गुना भी हो जाती है। 
   शेयर मार्केट देश की अर्थव्यवस्था का आधार होते है। इसके बगैर देश के सारे  उद्योग अधर में लटक जाएंगे। 

www.speedearning.in
7066045880

Comments

  1. BOOK PARTIAL PROFIT IN GOLD T1 ACHIEVED

    Equity tips

    ReplyDelete
  2. Now a days,stock market is very volatile. So traders advised to do trade with strict stop-loss and follow the advise of technical analyst of advisory companies like Epic Research.

    ReplyDelete
  3. The news was sentimentally negative, as street was anticipating a complete stake sale of Baring.
    Nifty Options Tips

    ReplyDelete
  4. nice and intersting post. thanks
    check out my blog  currency tips

    ReplyDelete
  5. The Sensex is up 78.69 points or 0.3 percent at 26039.47 and the Nifty is up 17.45 points or 0.2 percent at 8019.75.
    CapitalStars

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

FUTURE & OPTION IN STOCK MARKET -NSE HINDI

FUTURE & OPTION IN STOCK MARKET -NSE
फ्यूचर्स एंड आप्शन्स  
FUTURE & OPTION (EASY STUDY IN 5MINUTES)click the above link for detail video

फ्यूचर्स एंड आप्शन्स कभी शेयर ट्रेडिंग की नई प्रणाली हें । चूंकि                                                                                                  
इसमें बड़े पैमाने पर ही काम अत: बड़े नुकसान या फायदे की सम्भावना बनती बनती हें । हर टर्मिनल पर एक स्क्रीन NSE -BSE की और एफ एंड ओ की स्क्रीन होती है . फ्यूचर में फिलहाल तीन सौ से ज्यादा स्क्रिप्स है जिनमे बहुत ज्यादा वॉल्यूम होता है ।  केश मार्केट में आप सौ या दो सौ -पाँच सौ क्वांटिटी ट्रेड करते है .लेकिन ऍफ़ & ओ में लॉट की साइज़ फिक्स होती है।  स्टॉक का प्राइस ज्यादा है तो लोट साइज़ छोटा है जैसे infy(2 4 0 0 ) का लॉट 1 2  5 का है .जबकि ifci(2 0 ) का लॉट 1 3 0 0 0 का है ।  लॉट की कुल वैल्यू का 1 5 % मार्जिन मनी लगता है । फ्यूचर में ब्रोकरेज 0. 0 3 % इंट्रा डे वाली लगती है । ऑप्शन -कॉल या पुट में 5 0 /लॉट ब्रोकरेज लगती है ।  फ्यूचर में ट्रेडर लास्ट थर्सडे (गुरुवार) तक रुक सकता है ।…

सबसे बड़ी ट्रेडिंग मिस्टेक्स -

सबसे बड़ी ट्रेडिंग मिस्टेक्स -


1 . जब भी कोई स्टॉप लॉस जाता है,उसके 10 मिनट के भीतर भीतर फिर से ट्रेड कर लेना गलती है।

समझो निकल ने 880 से 877 आकर  3 pt का एस एल तोडा और आपके मुंह से निकला अरे यार।
876 पर आपने शोर्ट सेल केर दिया, 10 मिनट में 879 आकर फिर एस एल ले जायेगा।
अगर ऐसा हो गया तो आप पुरे दिन के लिए उलझ जायेंगे और एक ट्रेड बिना एस एल कर लेंगे।
वही एक ट्रेड 5000 का लॉस दे  देगा।

सही क्या है ?
6 बजे sl गया है तो 6. 29 बजे दूसरा ट्रेड करें। पहले ख़रीदा था तो अब 60 % चांस है कि बिकवाली की लहर आ जाये।

2. किसी कमोडिटी से प्यार या नफरत हो जाना गलती है। 

2 दिन सिल्वर में खूब कमाया तो तीसरे दिन उसको हाथ  भी ना  लगाओ। आपने 400 -400 पॉइंट दो दिन में कमाए, तीसरे दिन ओवर कॉन्फिडेंस में 1200 पॉइंट चले जायेंगे।

क्रूड में २ दिन स्टॉप लॉस चले गए तो आपने स्क्रीन से ही हटा दिया। गौर करोगे तो पता चलेगा कि 2 दिन रेंज में फंसा था तो तीसरे दिन वाही एक तरफा चलेगा।
कई ट्रेडर कहते है कि मैं तो शुरू से गोल्ड -सिल्वर ही करता हूँ।
क्यों ?
मुझे वही  जमता है।
सर पे बुलियन लिखा कर तो पैदा नहीं हुए थे। जब कॉपर -…

HEDGING -100% SAFE TRADING

3 types of hedging in MCX


hedge means protection of capital. So, when there is confusion, we place trade in both directions till clarity with definite stop losses. Generally traders know about hedging but not enough. It is must to know how & when to open hedging and how to close? 3 main type of hedging are- 1. Intra commodity hedging- hedging within same commodity buy silver january and sell silver december with 300 pt sl. this is safe. 2.intra sector- hedging within same sector but different commodities. say buy goldm 28800 sl 28650 sell silvermini 56000 sl 56380 buy copper 406 sl 404 sell nickel 940sl 948 RISK-2000 IN BOTH LEADMINI & ZINCMINI WITH 1/- SL During day time book small tgt in both sides. big tgt are possible frm 6to10pm in evening. 3.INTER SECTOR- hedgng in different sector .it is more risky when it is clear that mkt is red. sell gold and sell nickel when mkt is clear green buy gold and buy nickel or buy silver & buy copper when in confusion, buy strong bullion …