Skip to main content

Posts

Showing posts from September, 2013

SMALL PROFITS FREQUENTLY jobbing or scalping in online daytrading

SMALL PROFITS FREQUENTLY
jobbing or scalping
When any trader enters and exit in a trade with speed and get small profits frequently,then repents minimum and gets maximum, but there should be a time discipline and right technical reason.
If you are trading at anytime without enough reason to buy or sell,then it will be over trading,which is not suggested buy us at all.
In any type of online trading,may it be mcx /stock market/currency, we found this trick useful for big as well as small trader.

FUTURES AND OPTION IN STOCK MARKET/NIFTY TRADING

CALL US FOR FEEDBACK
PANKAJ JAIN MONEYGURU www.smallstoploss.in WWW.SPEEDEARNING.IN CALL FOR TRAINING & SURE TIPS 09754381469
09713266391

HEDGING IN MCX TRADING & TYPES

WATCH THIS LATEST VIDEO 
HEDGING IN MCX TRADING & TYPEShttp://youtu.be/6qRCyyN9PZkare We  discussing about right timing & procedure of trading.It is a complete system.
हेजिंग का मतलब है कैपिटल को बचाना।  हेजिंग ३ तरह की होती है - 1 .सेम कमोडिटी हेजिंग - सिल्वर oct की खरीद और सिल्वर nov की बिकवाली हो ,साथ ही 0. 5 %(250pt ) से कम का स्टॉप लॉस हो ,तो ही काम सही होगा। 
2. सेम सेक्टर हेजिंग - इसमें सेक्टर तो एक है पर कमोडिटी अलग है जैसे बुलियन सेक्टर में सिल्वर की खरीद और गोल्ड की सेलिंग। 3 सिल्वर माइक्रो खरीद  में 300 pt(कुल -900 ) का स्टॉप लॉस है तो 2 गोल्ड मिनी में 50pt  का स्टॉप लॉस (कुल -1000 )रख लो।  एक तरफ sl जायेगा ,दूसरी तरफ टारगेट आयेगा।  ऐसे ही बेस मेटल में कॉपर -निकल और लीड -जिंक की हेजिंग होगी।  इस टाइप की हेजिंग में रिस्क थोडा ज्यादा है ,कभी -कभी दोनों तरफ के स्टॉप  लॉस एक साथ हो जाते है।  इसलिए पहले मिनी -माइक्रो लाट में प्रैक्टिस कर के गलतियाँ सुधारना जरुरी है। 
3. क्रॉस सेक्टर हेजिंग - इसमें पुरे मार्केट की हेजिंग तब करते है ,जब क्लियर नहीं होता कि मार्किट में बाइंग है …

STORY OF FIRST YEAR ONLINE TRADING

STOCK MARKET TRAINING SERIES PART 1

सबसे बड़ी ट्रेडिंग मिस्टेक्स -

सबसे बड़ी ट्रेडिंग मिस्टेक्स -


1 . जब भी कोई स्टॉप लॉस जाता है,उसके 10 मिनट के भीतर भीतर फिर से ट्रेड कर लेना गलती है।

समझो निकल ने 880 से 877 आकर  3 pt का एस एल तोडा और आपके मुंह से निकला अरे यार।
876 पर आपने शोर्ट सेल केर दिया, 10 मिनट में 879 आकर फिर एस एल ले जायेगा।
अगर ऐसा हो गया तो आप पुरे दिन के लिए उलझ जायेंगे और एक ट्रेड बिना एस एल कर लेंगे।
वही एक ट्रेड 5000 का लॉस दे  देगा।

सही क्या है ?
6 बजे sl गया है तो 6. 29 बजे दूसरा ट्रेड करें। पहले ख़रीदा था तो अब 60 % चांस है कि बिकवाली की लहर आ जाये।

2. किसी कमोडिटी से प्यार या नफरत हो जाना गलती है। 

2 दिन सिल्वर में खूब कमाया तो तीसरे दिन उसको हाथ  भी ना  लगाओ। आपने 400 -400 पॉइंट दो दिन में कमाए, तीसरे दिन ओवर कॉन्फिडेंस में 1200 पॉइंट चले जायेंगे।

क्रूड में २ दिन स्टॉप लॉस चले गए तो आपने स्क्रीन से ही हटा दिया। गौर करोगे तो पता चलेगा कि 2 दिन रेंज में फंसा था तो तीसरे दिन वाही एक तरफा चलेगा।
कई ट्रेडर कहते है कि मैं तो शुरू से गोल्ड -सिल्वर ही करता हूँ।
क्यों ?
मुझे वही  जमता है।
सर पे बुलियन लिखा कर तो पैदा नहीं हुए थे। जब कॉपर -…

EASY CHART READING IN HINDI( VIDEO LESSON-12 SEP 2013)

                  टेक्निकल एनालिसिस 

फंडामेंटल  एनालिसिस बताता है की क्या खरीदे और क्यों खरीदे ?जबकि टेक्निकल एनालिसिस बताता है की कब खरीदे ?
WATCH THESE 3 IMPORTANT VIDEO- MUST SEE FOR ALL TRADERS

http://youtu.be/Ww7HycEPMqY

http://youtu.be/9ciQgmldXbAhttp://youtu.be/aySpIPc_c-A

टेक्निकल एनालिसिस ट्रेड़ रिवर्सल को बहुत जल्दी पहचान लेने की कला है । बाजार झा से पलटे वहाँ शेयर खरीदने या बेचने वाला ज्यादा पैसा बना सकता है । 
टेक्निकल एनालिसिस में चार्ट  कंस्ट्रक्शन किया जाता है । (१) बार चार्ट (२) लाइन चार्ट (३)जापानीज केंडल स्टिक (४)पाइंट एंड फिगर । सामान्यत: लाइन चार्ट और बार चार्ट  का उपयोग ज्यादा होता है । चार्ट बनाने के लिए x -axis को टाइम स्केल और y -axis को प्राइज स्केल माना जाता है। यदि इंट्राडे मूवमेंट देखना है तो टाइम स्केल घंटो में होगी । यदि पुरे वीक  को स्टडी करना है तो टाइम स्केल डेटवाइज होगा ।एन्युअल स्टडी के टाइम स्केल मंथली होगा । 


चार्ट के जरिए किसी निश्चित अवधि में शेयर की ४ महत्वपूर्ण रिडिंग्स मिलेगी,ओपन,हाई ,लो,क्लोज । चार्ट्स इन्वेस्टर बनाते नही है बल्कि रेडीमेड चार्ट्स ज…